City Headlines

Home » संयुक्त राष्ट्र टीम ने तालिबान के झंडे संग फोटो खिंचाई तो मांगनी पड़ी माफी

संयुक्त राष्ट्र टीम ने तालिबान के झंडे संग फोटो खिंचाई तो मांगनी पड़ी माफी

by Rashmi Singh

न्यूयार्क । संयुक्त राष्ट्र संघ की टीम ने अपने अफगानिस्तान के दौरे के दौरान तालिबान के झंडे संग फोटो खिंचवा ली। अब यह फोटो खिंचवाना इस टीम को महंगा पड़ रहा है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आलोचना के बाद संयुक्त राष्ट्र संघ को अपनी टीम के इस कृत्य के लिए माफी मांगनी पड़ी है।
जानकारी के मुताबिक संयुक्त राष्ट्र संघ की उप महासचिव अमीना मोहम्मद ने पिछले सप्ताह अफगानिस्तान का दौरा किया था। उनके साथ संयुक्त राष्ट्र संघ की दो और शीर्ष अधिकारी सीमा बाहौस और खालेद अमीरी ने अफगानिस्तान का चार दिवसीय दौरा किया था। इस दौरान संयुक्त राष्ट्र संघ के कुछ अधिकारियों ने तालिबान के झंडे के साथ तस्वीरें लीं और उन्हें सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया। जिसके बाद संयुक्त राष्ट्र संघ की आलोचना होने लगी और लोगों ने संयुक्त राष्ट्र की निष्पक्षता और अखंडता पर सवाल उठा दिए। बता दें कि तालिबान के झंडे को अभी तक वैश्विक स्तर पर मान्यता नहीं मिली है।
नेशनल रेजिस्टेंट फ्रंट ऑफ अफगानिस्तान के विदेश मामलों के प्रमुख अली मैजम नाजरी ने एक ट्वीट करते हुए लिखा कि संयुक्त राष्ट्र संघ के लोग काबुल में एक आतंकी संगठन के झंडे के साथ तस्वीर लेकर संयुक्त राष्ट्र की निष्पक्षता पर सवाल खड़े कर रहे हैं। उन्होंने संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव से मामले की जांच कराने की मांग की है। उन्होंने तर्क दिया है कि ऐसे असंवेदनशील कार्यों से संयुक्त राष्ट्र की प्रतिष्ठा को धूमिल कर सकता है।
उल्लेखनीय है कि तालिबान ने अफगानिस्तान की सत्ता कब्जाने के बाद इसके झंडे में भी बदलाव किया था। तालिबान का नया झंडा सफेद रंग का है और उस पर शहादा लिखा है। इससे पहले अफगानिस्तान का झंडा हरे और लाल रंग का था। दुनिया के कई देशों ने तालिबान के नए झंडे को मान्यता नहीं दी है। यही कारण है कि संयुक्त राष्ट्र संघ के अधिकारियों की तालिबान के झंडे के साथ तस्वीरें सामने आने के बाद इस पर विवाद हो गया है।
आलोचना के बाद संयुक्त राष्ट्र संघ ने इस पर माफी मांगी है। संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव एंटोनियो गुटेरस के प्रवक्ता फरहान हक ने बताया कि यह तस्वीर नहीं ली जानी चाहिए थी। यह साफ तौर पर गलती है और हम इसके लिए माफी मांगते हैं। जिन कर्मचारियों ने यह तस्वीर ली है, उनके अधिकारी इस बारे में उनसे बात करेंगे।

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.