City Headlines

Home » प्राण प्रतिष्ठा से पहले अयोध्या में एटीएस ने पकड़े दो संदिग्ध व्यक्ति

प्राण प्रतिष्ठा से पहले अयोध्या में एटीएस ने पकड़े दो संदिग्ध व्यक्ति

by Sanjeev

अयोध्या। प्राण प्रतिष्ठा से पहले उत्तर प्रदेश की आतंकरोधी शाखा ने अयोध्या में बड़ी कार्रवाई की है। एटीएस ने दो संदिग्ध लोगों को गिरफ्तार किया है। एटीएस ने धर्मवीर और एक अन्य को पकड़ा है। दोनों संदिग्ध सुक्खा दुनके, अर्श डल्ला गैंग के सदस्य बताए जा रहे हैं। अर्श डल्ला को भारत सरकार ने आतंकी घोषित किया है। इन दोनों व्यक्तियों से एटीएस पूछताछ कर रही है।
रामलला की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर अयोध्या की सुरक्षा बेहद ही कड़ी कर दी गई है। एटीएस के जवान भी चप्पे-चप्पे पर तैनात हैं। सभी जवानों के पास आधुनिक हथियार भी हैं, जिससे किसी भी संदिग्ध को पलभर में ही ढेर किया जा सके। इसके साथ ही पूरे शहर में सीसीटीवी कैमरे लगा दिए गए हैं, जिससे पुलिस और सुरक्षाबलों की नजर से कोई बाख ना सके।
मुख्य समारोह से पहले पुलिस और अर्धसैनिक बलों के 11,000 जवान तैनात किये गए हैं। वीआईपी सुरक्षा के लिए तीन डीआईजी, 17 एसपी, 40 एएसपी, 82 डीएसपी, 90 इंस्पेक्टर के साथ 1,000 से ज्यादा कान्सटेबल और 4 कंपनी पीएसी को तैनात किया गया है। आईजी प्रवीण कुमार ने बताया कि कार्यक्रम को देखते हुए और फोर्स को बढ़ाया जा रहा है। किसी भी स्थिति में चूक की कोई गुंजाइश न रहे, इसके लिए सुरक्षा कार्य में लगी सभी एजेंसियों के बीच बेहतर समन्वय हो, इस पर भी फोकस किया जा रहा है। चाक-चौबंद रेल सुरक्षा के लिए भी विशेष इंतजाम किए गए हैं। श्रद्धालुओं को दर्शनीय स्थलों की जानकारी देने के लिए 250 पुलिस गाइड की तैनाती की गई है।
सरयू नदी और घाटों पर एनडीआरएफ तैनात
शहर में मैनुअल एजेंसियों की तैनाती के साथ टेक्नोलॉजी का भरपूर इस्तेमाल किया जा रहा है। धाम में एटीएस, एसटीएफ, पीएसी, यूपीएसएसएफ समेत यूपी पुलिस की भारी-भरकम फोर्स को तैनात किया गया है, वहीं, एआई, एंटी ड्रोन, सीसीटीवी कैमरों को लगाया गया है। इसके साथ ही सरयू नदी और घाटों पर एनडीआरएफ की टुकड़ी को तैनात किया गया है। अयोध्या में मेहमानों की सुरक्षा के लिए बार कोडिंग का इस्तेमाल किया जा रहा है।

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.