City Headlines

Home » प्रधानमंत्री के वोकल फॉर लोकल की आधारशिला है हैंडीक्राफ्ट प्रदर्शनी : मुख्यमंत्री

प्रधानमंत्री के वोकल फॉर लोकल की आधारशिला है हैंडीक्राफ्ट प्रदर्शनी : मुख्यमंत्री

राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने सफेद बारादरी में हैंडीक्राफ्ट प्रदर्शनी का किया उद्धाटन

by Madhurendra
Prime Minister, Vocal for Local, Handicraft Exhibition, CM, Yogi, Governor, Safed Baradari, Lucknow, UP, Anandi Ben Patel, Yogi Adityanath

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को यहां कैसरबाग स्थित सफेद बारादरी में ग्रामश्री एवं क्राफ्ट रूट्स की हैंडीक्राफ्ट प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। यह प्रदर्शनी पांच फरवरी तक चलेगी।

Prime Minister, Vocal for Local, Handicraft Exhibition, CM, Yogi, Governor, Safed Baradari, Lucknow, UP, Anandi Ben Patel

  • फोटो जर्नलिस्ट – बलराम गुप्ता

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने कहा कि हैंडीक्राफ्ट प्रदर्शनी देखने में भले ही छोटी लग रही है, लेकिन यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वोकल फॉर लोकल और आत्मनिर्भर भारत की आधारशिला है। प्रधानमंत्री की प्रेरणा से प्रदेश में वर्ष 2018 में परंपरागत उद्योगों को प्रोत्साहित करने के लिए एक जिला एक उत्पाद का एक अभिनव कार्यक्रम शुरू किया गया। इसमें प्रदेश के सभी 75 जिलों के एक यूनिक प्रोडक्ट का चयन कर उसकी मार्केटिंग की गई। इससे परंपरागत उद्योग को एक नई दिशा और वैश्विक पटल पर पहचान मिली।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के कारीगरों और हस्तशिल्पियों को प्रोत्साहित करने एवं उनके प्रशिक्षण के लिए विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना चलायी जा रही है। इसके तहत उन्हें मानदेय और टूलकिट उपलब्ध कराए जा रहे हैं। इसी का नतीजा है कि लैंडलॉक्ड स्टेट कहा जाने वाला उत्तर प्रदेश का दो से तीन वर्ष के अंदर एक्सपोर्ट दो गुने से अधिक हो गया। कोरोना महामारी के दौरान लॉकडाउन में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कई अभिनव प्रयोग किये। उन्होंने इन प्रयोगों से महिला सशक्तीकरण को जोड़ा, जो काम से वंचित थीं। उन्हें जब मौका मिला तो उन्होंने अपने हुनर का प्रदर्शन कर साबित कर दिया कि प्रदेश में पोटेंशियल की कमी नहीं है। आज राज्यपाल के मार्गदर्शन में इसे आगे बढ़ाया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने गुजरात से ग्राम स्वराज की नई प्रेरणा दी। यहां पर ग्रामश्री संस्था का जन्म होना सौभाग्य की बात है। उन्होंने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के ग्राम स्वराज को आगे बढ़ाते हुए हस्तशिल्पियों और कारीगरों को टेक्नोलॉजी से जोड़ नई दिशा दी है। संस्था हैंडीक्राफ्ट एग्जीबिशन के जरिये देश के विभिन्न राज्यों के कारीगरों की कुशलता को आपस में आदान-प्रदान कर इसे नया रूप दे रही है, जो प्रधानमंत्री मोदी के वोकल फॉर लोकल विजन को दर्शाती है। योगी ने कहा कि ग्रामश्री संस्था की तरह अन्य संस्थाओं को भी आगे आना चाहिए ताकि पूरा विश्व देश के कारीगरों के हुनर को जान सके। योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की भावनाओं के अनुरूप जब उन्होंने काम शुरू किया तो देश ही नहीं विदेशों में भी ओडीओपी के उत्पाद छा गये। इतना हीं नहीं प्रधानमंत्री मोदी जब भी विदेश दौरे पर जाते हैं तो वह देश के किसी न किसी राज्य के प्रोडक्ट को मेहमानों को भेंट स्वरूप देते हैं, जो यह दर्शाता है कि इस फील्ड में अपार संभावनाएं हैं।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि 22 जनवरी को प्रधानमंत्री मोदी की गरिमामयी उपस्थिति में 500 वर्षों के बाद जन्मभूमि मंदिर में रामलला विराजमान होने जा रहे हैं। इसके लिए मैं आप सभी को शुभकामनाएं और बधाई देता हूं। कार्यक्रम में उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य एवं ब्रजेश पाठक और मंत्री आशीष पटेल समेत कई प्रमुख लोग मौजूद रहे।

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.