City Headlines

Home » मुस्लिम फंड संचालक लोगों के करोड़ों रुपये लेकर फरार

मुस्लिम फंड संचालक लोगों के करोड़ों रुपये लेकर फरार

by City Headline
Muslim,Fund,Operator,Absconding,Haridwar

हरिद्वार। ज्वालापुर कोतवाली क्षेत्र में म्यूचुअल बेनीफिट फंड संचालक हजारों लोगों गाढ़ी कमाई लेकर चंपत हो गया। इस बात का पता चलते ही आरोपित की गिरफ्तारी की मांग को लेकर सैकड़ों लोग कोतवाली पहुंचे और न्याय की गुहार लगाई। पुलिस अब आरोपित का पता लगाने में जुटी है।
ज्वालापुर क्षेत्र के ग्राम सराय निवासी अब्दुल रजाक बीते कई सालों से मुस्लिम फंड के नाम पर लोगों से रुपये जमा करवाता आ रहा है। इसके लिए उसने कबीर म्यूचुअल बेनीफिट निधि लिमिटेड के नाम से कार्यालय भी खोल रखा था, जिसमें कई लोग पैसा कलेक्शन करने का काम किया करते थे। यहां लोग पैसा सुरक्षित समझा करते थे, लेकिन रविवार सुबह लोगों के उस समय होश उड़ गए, जब लोगों को पता चला कि अब्दुल रज्जाक अपने कार्यालय और घर पर ताला जड़कर फरार हो गया है। इसके बाद पीडि़त लोग लेकर कोतवाली पहुंचे और आरोपित की गिरफ्तारी की मांग करने लगे। बताया जा रहा है कि आरोपित ने कबीर म्यूचुअल बेनीफिट निधि लिमिटेड (मुस्लिम फंड) के नाम पर लोगों से करोड़ों रुपये जमा करवाए थे।
गौरतलब है कि मुस्लिम समुदाय में ब्याज का पैसा हराम माना गया है। यही कारण है कि कई मुस्लिम लोग बैंकों में अपना पैसा जमा नहीं करते। इसी बात का फायदा उठाकर सराय ज्वालापुर के रहने वाले अब्दुल रज्जाक बीते कई सालों से मुस्लिम समुदाय के छोटे से बड़े व्यक्ति से दैनिक साप्ताहिक और मासिक पैसों का कलेक्शन किया करता था। बाकायदा बैंक की तरह लोगों में पासबुक भी बांट रखी थी, जिसमें इसके लोग ही पैसा लेने के बाद लोगों की एंट्री किया करते थे।
बताया जा रहा है कि आरोपित लोगों के जमा पैसों को ब्याज पर दूसरी जगह देता था। बीते कुछ सयम से वह या उसका कोई एजेंट लोगों से कलेक्शन करने नहीं गया तो कुछ लोगों को कुछ शक हुआ। इसके बाद कुछ लोग इसके कार्यालय व घर पर पहुंचे तो दोनों जगह ताले जड़े मिले, जिसके बाद लोगों को उसके फरार हो जाने का पता चला।
फिलहाल, जानकारी में आया है कि ज्वालापुर और आसपास के मुस्लिम गांवों में रहने वाले 22 हजार लोगों ने उसके पास खाते खोले थे। 10 हजार से लेकर 50 हजार तक कई लोगों ने जमा कराए थे। आरोप है कि अब्दुल रज्जाक उनकी जमापूंजी लेकर फरार हो गया है।
एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार सिंह ने कहा कि प्रारंभिक जांच में पता चला है कि करीब 22000 लोगों ने उसके पास खाते खोले हुए थे, जिनमें करोड़ों रुपया जमा कराया गया। इस मामले में लोगों की तहरीर के आधार पर आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जा रहा है, जल्द ही उसको गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.