City Headlines

Home » कैसरगंज से भाजपा ने बृजभूषण को टिकट दिया है, जिससे सपा को खेलने का मौका मिल सकता है। अब सिर्फ यही इंतजार है कि कैसे वे इस दांव का फायदा उठाते हैं।

कैसरगंज से भाजपा ने बृजभूषण को टिकट दिया है, जिससे सपा को खेलने का मौका मिल सकता है। अब सिर्फ यही इंतजार है कि कैसे वे इस दांव का फायदा उठाते हैं।

by Nikhil

यूपी की कैसरगंज सीट पर अभी तक बड़े दलों ने पत्ते नहीं खोले हैं। भाजपा, सपा और बसपा के प्रत्याशी का इंतजार है। ऐसे में सपा ने रणनीति तैयार की है, अगर भाजपा बृजभूषण को टिकट देगी तो सपा भी महिला पहलवान को मैदान में उतारेगी।

समाजवादी पार्टी कैसरगंज से एक आंदोलनकारी महिला पहलवान को उतारने की तैयारी कर रही है। यह पहलवान भाजपा के सांसद बृजभूषण सिंह पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाने वालों में शामिल रही हैं। हालांकि, सपा नेतृत्व को इस सीट पर अभी भाजपा के पत्ते खुलने का इंतजार है। बसपा ने भी कैसरगंज से अपना प्रत्याशी अभी तक नहीं दिया है।

कैसरगंज में चुनाव पांचवें चरण में है। यहां नामांकन की अंतिम तिथि 3 मई है। यहां से चर्चित सांसद बृजभूषण शरण सिंह के चलते इस सीट पर सभी पार्टियों की नजर है। बहरहाल बृजभूषण चुनाव लड़ने पर अड़े हुए हैं, पर भाजपा उनको टिकट देकर कोई खतरा मोल नहीं लेना चाहती है।

उन पर देश की जानी-मानी महिला पहलवानों ने गंभीर आरोप लगाए हैं, जिसके चलते बृजभूषण को कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष पद से इस्तीफा भी देना पड़ा था। इस मामले में उनके खिलाफ केस भी चल रहा है। बृजभूषण ने दिल्ली की अदालत में मामले की नए सिरे से जांच कराने के लिए याचिका दायर की थी, जो खारिज हो चुकी है। ऐसे में उन पर यौन उत्पीड़न केस के आरोप तय करने का रास्ता साफ हो गया है। बताते हैं कि इन्हीं सब स्थितियों के चलते भाजपा अब तक इस सीट पर अपने प्रत्याशी के बारे में निर्णय नहीं ले पाई है।

सपा सूत्रों का कहना है कि अगर भाजपा ने बृजभूषण शरण सिंह को टिकट दिया, तो उनकी पार्टी आंदोलनकारी पहलवान को यहां के ‘रण’ में उतारेगी। इसके लिए रणनीति तैयार कर ली गई है। सपा का टिकट घोषित होने में देरी का कारण भी यही है कि पहले भाजपा का प्रत्याशी घोषित हो जाए।

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.