City Headlines

Home » विदेशी का पुणे में बम धमाका कराने की साजिश में हाथ, आतंकियों का मददगार इंजीनियर गिरफ्तार

विदेशी का पुणे में बम धमाका कराने की साजिश में हाथ, आतंकियों का मददगार इंजीनियर गिरफ्तार

by Madhurendra
Guwahati, Lachit Barphukan Police Academy, Deputy Superintendent of Police, DSP, Kiran Nath, minor, domestic maid, sexual exploitation

मुंबई। पुणे में बम धमाका की साजिश रचने में विदेशी हाथ होने की जानकारी एंटी टेरोरिस्ट स्कॉड (एटीएस) को मिली है। हालांकि, विदेशी आतंकी का नाम सार्वजनिक नहीं किया गया है, लेकिन उसकी गहन तलाश की जा रही है। एटीएस को यह जानकारी आतंकियों को वित्तीय मदद मुहैया करवाने वाले गिरफ्तार मैकेनिकल इंजीनियर से पूछताछ के दौरान मिली है।

एटीएस की टीम ने शनिवार को रत्नागिरी जिले से आतंकियों को वित्तीय मदद मुहैया कराने वाले मैकेनिकल इंजीनियर निसाब नसरुद्दीन काजी (उम्र 27) को गिरफ्तार किया है। एक एटीएस अधिकारी ने नाम गोपनीय रखने की शर्त पर रविवार को बताया कि निसाब नसरुद्दीन काजी की वार्षिक आय करीब 15 लाख रुपये है। काजी इसी आय का कुछ हिस्सा आतंकियों को भेजता था। उसके बैंक खाते से कई आतंकियों को पैसे भेजे जाने की जानकारी अब तक जांच में मिली है।
एटीएस ने काजी की गिरफ्तारी इससे पहले गिरफ्तार किए गए मोहम्मद यूनुस मोहम्मद याकू साकी (24), मोहम्मद इमरान मोहम्मद यूसुफ खान (23) और अब्दुल कादिर दस्तगीर पठान (उम्र 32) की निशानदेही पर की है। इन चारों पर पुणे में बम धमाका रचने की साजिश रचने का आरोप है।

दरअसल, पुणे जिले के कोथरुड पुलिस स्टेशन की टीम ने मोटरसाइकिल चोरी करने के प्रयास में दो लोगों को गिरफ्तार किया था। जांच में पता चला कि दोनों दुर्दांत आतंकी हैं और इन दोनों पर एनआईए ने 5-5 लाख रुपये का इनाम घोषित किया है। दोनों से गहन छानबीन के बाद पुलिस ने तीसरे आतंकी को गिरफ्तार किया था और शनिवार को इनका चौथा साथी इंजीनियर पकड़ा गया है। एटीएस की टीम इस मामले में विदेशी नागरिक की गहन तलाश कर रही है।

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.