City Headlines

Home » हिजाब न पहनने पर धमकी मिलने के बाद शतरंज खिलाड़ी सारा ने ईरान छोड़ा , स्पेन की नागरिकता ली

हिजाब न पहनने पर धमकी मिलने के बाद शतरंज खिलाड़ी सारा ने ईरान छोड़ा , स्पेन की नागरिकता ली

by Sanjeev

मैड्रिड (स्पेन )। हिजाब नहीं पहनने पर कट्टरपंथियों से धमकी मिलने के बाद ईरान की मशहूर महिला शतरंज खिलाड़ी सारा खादेम ने देश छोड़कर स्पेन की नागरिकता ले ली है। यह जानकारी स्पेन सरकार ने दी है। ज्ञात रहे कि दिसंबर में सारा ने कजाकिस्तान में एक प्रतियोगिता में बिना हिजाब के भाग लिया था जिस पर ईरान सरकार ने विरोध किया था। उस दौरान विरोध से बचने के लिए सारा खादेम जनवरी में स्पेन चली गई थी।
हाल ही में सारा खादेम को स्पेनिश नागरिकता प्रदान की गई है। इस बात की जानकारी स्पेन सरकार ने 27 जुलाई (गुरुवार) को दी। कजाकिस्तान में आयोजित फिडे वर्ल्ड रैपिड और ब्लिट्ज शतरंज चैंपियनशिप में बिना हिजाब के बिना हिस्सा लिया, जो ईरान के सख्त इस्लामिक ड्रेस कोड के तहत अनिवार्य है।
सारा खादेम के ऐसा करने के कारण ईरान में उसके घर पर उसके खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी किया गया था। ईरान में अनिवार्य हिजाब पहनने को लागू करने वाले कानून से अशांति के दौरान सितंबर के मध्य में 22 वर्षीय ईरानी-कुर्दिश महिला महसा अमिनी की नैतिकता पुलिस की हिरासत में मृत्यु हो गई।
26 वर्षीय सारा ने बताया कि उसे अपने देश के लिपिक नेतृत्व के खिलाफ विरोध आंदोलन के समर्थन में अपने कर्मों पर कोई पछतावा नहीं है। वहीं, स्पेन के आधिकारिक राजपत्र में कहा गया है कि कैबिनेट ने 25 जुलाई (मंगलवार) को खादेम को उसके मामले की “विशेष परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए” नागरिकता देने को मंजूरी दे दी।

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.