City Headlines

Home » मोदी सरकार ने पिछली सरकार की तुलना में 58 फीसद ज्यादा नौकरियां दीं: स्मृति ईरानी

मोदी सरकार ने पिछली सरकार की तुलना में 58 फीसद ज्यादा नौकरियां दीं: स्मृति ईरानी

लखनऊ सहित देश भर के 43 स्थानों पर रोजगार मेले का आयोजन किया गया

by Madhurendra
up, employment, smriti irani, union minister, modi, pm, modi government, job

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सरकारी विभागों और संगठनों में भर्ती हुए लगभग 70 हजार नवनियुक्त सदस्यों को नियुक्ति पत्र वितरित किया। प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर भर्ती हुए सदस्यों को संबोधित भी किया। रोजगार मेले का आयोजन देश भर में 43 स्थानों पर किया गया।

लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में मंगलवार को आयोजित रोजगार मेले को संबोधित करते हुए केंद्रीय महिला एवं बाल विकास और अल्पसंख्यक मामलों की मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी ने कहा कि पिछली सरकार की तुलना में मोदी सरकार ने युवाओं को 58 फीसदी ज्यादा नौकरियां दी हैं। अब तक 08 लाख 80 हजार से ज्यादा नौकरियां युवाओं को मिली हैं। उन्होंने कहा कि अगर रोजगार मिलने के बाद कॅरियर में वृद्धि करनी है तो हर क्षेत्र के बारे में जानकारी रखनी होगी।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि बैंकिंग क्षेत्र में काम करने वाले अधिकारी अपने ग्राहकों की लोन एप्लीकेशन को सिर्फ एक कागज़ का टुकड़ा न समझें। मध्यम वर्ग के लिए लोन का आवेदन स्वीकृत या अस्वीकृत होना, सपने के पूरे होने या टूट जाने जैसा होता है।

ईरानी ने कहा कि नौकरियों के माध्यम से सेवा का मौका मिलना महत्वपूर्ण है। सेवा किस जगह से की जाए यह महत्वपूर्ण नहीं है। उन्होंने कहा कि आज भारत में निजी और सरकारी सेक्टर दोनों ही जगह नौकरियों के निरंतर नए मौके सृजित हो रहे हैं। बड़ी संख्या में युवा स्वरोजगार के लिए भी आगे आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि मुद्रा योजना के तहत सरकार 40 करोड़ लोन दे चुकी है। इसमें से 27 करोड़ मुद्रा लोन महिलाओं को दिए गए हैं। युवाओं की मदद की है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जल जीवन मिशन के तहत लोगों तक पानी पहुंचाने के लिए सरकार ने 04 लाख करोड़ रुपये खर्च किए हैं। स्टैंड अप इंडिया के अंतर्गत 40 हजार करोड़ रुपये केवल महिला और अनुसूचित जन जाति के लोगों को मोदी सरकार के द्वारा दिए गए हैं। केंद्रीय महिला एवं बाल विकास और अल्पसंख्यक मामलों की मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी ने कहा कि रोजगार पाने वाला एक व्यक्ति हजारों लोगों की जिंदगी बदल सकता है।

रोजगार मेले की इस पहल का समर्थन करते हुए राज्य सरकारों तथा केंद्रशासित प्रदेशों में भी नियुक्तियां की जा रही हैं। देश भर से चुनी गई नई भर्तियां वित्तीय सेवा विभाग, डाक विभाग, स्कूली शिक्षा विभाग, उच्चतर शिक्षा विभाग, रक्षा मंत्रालय, राजस्व विभाग, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय, परमाणु ऊर्जा विभाग, रेल मंत्रालय, लेखा परीक्षा एवं लेखा विभाग तथा गृह मंत्रालय आदि सहित विभिन्न विभागों में सरकार में शामिल होंगी।

उन्होंने कहा कि रोजगार मेला, रोजगार सृजन को सर्वोच्च प्राथमिकता प्रदान करने की प्रधानमंत्री की प्रतिबद्धता को पूरा करने की दिशा में एक कदम है। रोजगार मेले से, आगे के रोजगार सृजन में एक उत्प्रेरक की भूमिका निभाने और युवाओं को उनके सशक्तिकरण तथा राष्ट्रीय विकास में भागीदारी के लिए सार्थक अवसर प्रदान करने की उम्मीद की जाती है।

नई शामिल की गई भर्तियों को आईजीओटी कर्मयोगी पोर्टल पर एक ऑनलाइन मॉड्यूल कर्मयोगी प्रारंभ के माध्यम से खुद को प्रशिक्षित करने का भी एक अवसर प्राप्त हो रहा है, जहां 400 से अधिक ई-लर्निंग पाठ्यक्रम ‘कहीं भी किसी भी डिवाइस’ सीखने के प्रारूप के लिए उपलब्ध कराए गए हैं।

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.