City Headlines

Home » मणिपुर हिंसा: सरकार मारे गए परिजनों को 10 लाख का मुआवजा और एक को नौकरी देगी

मणिपुर हिंसा: सरकार मारे गए परिजनों को 10 लाख का मुआवजा और एक को नौकरी देगी

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने उच्च अधिकारियों के साथ बैठकें कर लिया हालात का जायजा

by Madhurendra
Imphal, Union Home Minister, Amit Shah, Manipur violence, Kin, Meitei, Kuki, Naga, Christian, Hindu

इंफाल। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मणिपुर में सांप्रदायिक हिंसा के पीड़ितों के लिए 10 लाख रुपये तक के मुआवजा देने का ऐलान किया है। इसके साथ ही मृतक के परिवार के किसी एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने का भी निर्णय लिया गया।

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह इस समय इंफाल में प्रवास पर है। शाह सोमवार रात ही इंफाल पहुंचे थे और रात से वे लगातार बैठकें कर रहे हैं। बैठक में भारत सरकार और मणिपुर सरकार ने राज्य में सांप्रदायिक हिंसा में मारे गए लोगों को मुआवजे के रूप में 10 लाख रुपये देने पर सहमति जताई है। इस मुआवजा में केंद्र और राज्य सरकार 5-5 लाख रुपये देंगे। साथ ही हिंसा में मारे गए लोगों के परिवार के किसी एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाएगी।

जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री नोंगथंबम बीरेन सिंह, केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय कुमार, राज्य के कई कैबिनेट मंत्री, भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा, केंद्रीय गृह सचिव अजय कुमार भल्ला, इंटेलिजेंस ब्यूरो ( आईबी) के निदेशक, मणिपुर सरकार के मुख्य सचिव तपन कुमार डेका, राज्य, गृह और सामान्य प्रशासन के शीर्ष अधिकारी और केंद्र सरकार के नियुक्त सुरक्षा सलाहकार कुलदीप सिंह के साथ केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बंद कमरे में बीती देर रात बैठक की।  इसी बैठक में हिंसा प्रभावित राज्य की समग्र स्थिति की समीक्षा की गई और पीड़ित को मुआवजा देने का निर्णय लिया गया।

सूत्रों के मुताबिक, इसके अलावा कल रात हुई बैठक में हिंसक स्थिति को शांत करने और शांति बहाल करने के लिए अफवाहों को फैलने से रोकने के लिए इंटरनेट सेवा बंद करने का भी फैसला किया गया। इतना ही नहीं केंद्र सरकार ने अफवाहों को दूर करने के लिए बीएसएनएल की मदद से टेलीफोन लाइन लगाने का फैसला किया है। इसके अलावा, राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति बहाल करने, राहत उपायों में तेजी लाने, पेट्रोल, एलपीजी गैस, चावल और अन्य दैनिक जरूरतों की चीजें आम लोगों को उपलब्ध कराने जैसे कई मुद्दों पर महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं।

जानकारी मिली है केंद्रीय मंत्री, केन्द्र व राज्य के उच्च अधिकारी और केंद्र सरकार के नियुक्त सुरक्षा सलाहकार कुलदीप सिंह हिंसा प्रभावित क्षेत्रों के मैतेई और कूकी समुदायों के नेताओं, शीर्ष जन प्रतिनिधियों के साथ बैठकों में शामिल होंगे। केंद्रीय गृह मंत्री के साथ भी कई बैठकें करेंगे। साथ ही स्वायत्त क्षेत्र का दावा करने वाले कुकी विधायकों से भी अमित शाह मुलाकात करेंगे। वह हिंसाग्रस्त इलाका चुराचांदपुर भी जाएंगे।

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.