City Headlines

Home » अपराध और नशे के लती हैं अतीक-अशरफ की हत्या के आरोपी

अपराध और नशे के लती हैं अतीक-अशरफ की हत्या के आरोपी

by Madhurendra
atiq, ashraf, murder, accused, lovelesh, sunny, arun, police, patrolling, high alert, cm, yogi

प्रयागराज। माफिया अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ की शनिवार रात को गोली मारकर हत्या करने के आरोप में लवलेश तिवारी, सनी सिंह और अरुण मौर्या को गिरफ्तार किया गया है। इस शूटआउट की जानकारी के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाई लेवल मीटिंग की। अधिकारियों को मुख्यमंत्री ने सख्त निर्देश दिये हैं।

हत्‍या के आरोप में पकड़े गए युवकों में बांदा का लवलेश एक लड़की को थप्पड़ मारने के आरोप में जेल जा चुका है। हमीरपुर निवासी सनी सिंह हिस्ट्रीशीटर है, जबकि अरुण मौर्या के मां-बात का निधन हो चुका है और वह चाची के पास रह रहा था।
लवलेश तिवारी के पिता यज्ञ तिवारी का बयान आया है कि लवलेश से उनके परिवार का कोई लेना-देना नहीं है। पांच दिन पहले वह बांदा स्थित अपने घर जरूर आया था। वह नशे का लती है और पहले भी एक लड़की को थप्पड़ मारने के मामले में जेल जा चुका है।
सनी सिंह हमीरपुर के कुरारा थाना से हिस्ट्रीशीटर है। वह थाना कुरारा के वार्ड नंबर 11 का रहने वाला है। उसके भाई से पता चला है कि सनी 15 साल से घर नहीं आया है। परिवार से उसका कोई लेना-देना नहीं है। थाने में उसका आपराधिक रिकार्ड भी दर्ज है। पुलिस उसका पूरा आपराधिक इतिहास खंगालने में लगी है।
अरुण मौर्य के माता-पिता की मौत हो चुकी है। वह अपने कासगंज की रहने वाली चाची लक्ष्मी के यहां रहता था। उन्होंने भी इस मामले में कोई भी जानकारी नहीं दी है। यूपी एसटीएफ की टीम आरोपियों से पूछताछ कर रही है। इन तीनों की पूछताछ में पुलिस के पास से मीडिया में आई जानकारी के मुताबिक ये लोग बड़ा कांड करके अतीक की तरह डाॅन बनना चाहते थे।
पुलिस की गश्त तेज
अतीक और उसके भाई अशरफ की हत्या के बाद शासन ने पुलिस प्रशासन को अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया है। प्रयागराज आदि स्थानों पर पुलिस की चौकसी बढ़ा दी गई है। धारा 144 लागू करते हुए संवेदनशील और अतिसंवेदनशील इलाकों में पुलिस गश्त तेज कर दी गई है। प्रयागराज में रात से ही इंटरनेट सेवा बाधित कर दी गई। पूरे मामले की कई टीमें छानबीन कर रही हैं।

 

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.