City Headlines

Home » पीएम आवास योजना लाभार्थी सुब्बुलक्ष्मी के पत्र ने PM को किया भावुक, ट्वीट कर कहा – ‘यही आशीर्वाद मेरी अपार शक्ति के स्रोत हैं’

पीएम आवास योजना लाभार्थी सुब्बुलक्ष्मी के पत्र ने PM को किया भावुक, ट्वीट कर कहा – ‘यही आशीर्वाद मेरी अपार शक्ति के स्रोत हैं’

by Madhurendra
tamilnadu, madurai, tamil, cook, tweet, pm, modi, n subbulakshmi, narendra modi

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने ट्वीट के जरिये बेहद मर्मस्पर्शी पत्र साझा किया है। यह पत्र एक घर में रसोइये का काम करने वाली महिला ने लिखा था। इसमें उन्होंने पीएम आवास योजना के तहत घर मिलने पर अपनी खुशियों को साझा करते हुए पीएम मोदी को ढेरों आशीर्वाद दिए थे। पीएम मोदी ने पत्र साझा करते हुए लिखा कि यही आशीर्वाद उनकी अपार शक्ति के स्रोत हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा कि वे प्रसार भारती के पूर्व बोर्ड सदस्य सी.आर केसवन से मिलने उनके नई दिल्ली स्थित आवास गए थे। केसवन ने प्रधानमंत्री मोदी से एन. सुब्बुलक्ष्मी का लिखा पत्र साझा किया। केसवन ने बताया कि सुब्बुलक्ष्मी उनके घर में रसोइए के तौर पर काम करती हैं और मदुरै की रहने वाली हैं। पत्र तमिल भाषा में है, जिसका भाव केसवन ने उन्हें पढ़कर सुनाया।

प्रधानमंत्री ने लिखा मदुरै की रहने वाली एन. सुब्बुलक्ष्मी जी को वित्तीय समस्याओं सहित कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा। उन्होंने पीएम आवास योजना के तहत घर के लिए आवेदन किया था। उन्हें घर मिल गया तो उन्होंने केसवन जी से प्रसन्नता व्यक्त करते हुए एक पत्र लिखा। इसमें उन्होंने बताया कि कैसे यह उनका पहला अपना घर है और इस घर से उनके जीवन को सम्मान के साथ-साथ गरिमा भी मिली है। उन्होंने अपने घर की तस्वीरें साझा कीं हैं। इसके साथ ही उन्होंने पीएम आवास योजना का आभार जताया और मुझे आशीर्वाद भी दिया है। पीएम मोदी लिखते हैं, ‘यह ऐसा आशीर्वाद है, जो अपार शक्ति का स्रोत है।”

प्रधानमंत्री मोदी ने लिखा है कि “एन. सुब्बुलक्ष्मी जी की तरह, अनगिनत लोग हैं, जिनका जीवन पीएम आवास योजना के कारण बदल गया है। केवल एक घर से उनके जीवन में गुणात्मक अंतर आया है। यह योजना महिला सशक्तिकरण की शुरुआत करने में भी सबसे आगे रही है।’’

उल्लेखनीय है कि पीएम आवास योजना मार्च 2015 में शुरू की गई प्रधानमंत्री आवास योजना का लक्ष्य हर गरीब को कम कीमत पर पक्का घर उपलब्ध कराना है। पहले शहरी क्षेत्र में शुरू की गई इस योजना का विस्तार ग्रामीण क्षेत्रों में भी किया गया है। मार्च 2024 तक इस योजना के तहत 2 करोड़ 95 लाख पक्के मकान देने का लक्ष्य निर्धारित है।

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.