City Headlines

Home » महिला को धर्म परिवर्तन न करने पर मिली जानमाल की धमकी

महिला को धर्म परिवर्तन न करने पर मिली जानमाल की धमकी

by Madhurendra
Conversion, Christianity, Bajrang Dal, Women, Life, Video Internet

कानपुर। धर्म परिवर्तन के लिए महिला को पहले एक लाख रुपये, आवास व नि:शुल्क बच्चों की शिक्षा का भी लालच दिया गया, लेकिन विरोध करने पर उसकी गर्दन काटकर मैनहोल में डालने की धमकी दी गई। मामला प्रकाश में आने के बाद जूही पुलिस ने मंगलवार रात इस मामले में आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू कर दी है। इस मामले को लेकर बजरंग दल के कार्यकर्ता वहां पहुंचे थे।
जूही थाना प्रभारी निरीक्षक जितेन्द्र सिंह ने बुधवार को बताया कि झकरकटी बस अड्डे के पीछे टुनटुनिया फाटक कच्ची बस्ती निवासी आशीष यादव और उनके पड़ोस में दिव्यांग राजेन्द्र कुमार यादव उर्फ बउवा का परिवार रहता है। बउवा के दो बेटे हिमांशु व शिवम रोडवेज बस से पार्सल उतारने का काम करते हैं। आशीष की पत्नी नगमा ने बताया कि बउवा के घर पास में रहने वाले ईसाई समाज का बंटी व उसकी पत्नी अक्सर आती है। नगमा का आरोप है कि बंटी व उसकी पत्नी काफी दिनों से उनसे ईसाई धर्म अपनाने का दबाव बना रही है। दोनों का कहना है कि ऐसा करने पर उन्हें एक लाख रुपये व रहने के लिए आवास और बच्चों को नि:शुल्क शिक्षा भी दी जाएगी। लेकिन जब महिला ने विरोध किया तो उसे धमकी दी गई कि गर्दन काटकर मैनहोल में फेंक दिया जाएगा। ऐसी धमकी मिलते ही आशीष ने बजरंग दल के रवि सोनकर की मदद मांगी। बजरंग दल कार्यकताओं के हंगामे व मामले का मैसेज व महिला का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल होने पर जूही पुलिस पहुंची। मामले की जांच शुरू कर दी। महिला ने मंगलवार देर रात तहरीर दी। बुधवार को पुलिस ने तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।
पुलिस कहना है कि बउवा व आशीष का परिवार पड़ोसी है। पार्सल उतारने को लेकर उनमें मंगलवार सुबह भी विवाद हुआ था। जिसमें आशीष के समर्थन में एक युवक ने मतांतरण का मामला दर्शाकर ट्वीट किया है। बंटी पर आरोप है वह ईसाई समाज से है और पास में झोपड़ी बनाकर परिवार के साथ रहता है। वह घर पर नहीं मिला है। मामले में अब तक दोनों परिवारों के बीच विवाद सामने आया है। फिर भी जो आरोप लगाए गए हैं, तहरीर के आधार पर जांच की जा रही है।

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.