City Headlines

Home » Madhya Pradesh : गोकशी के शक में जनजाति समुदाय के दो लोगों की हत्या, अब तक नौ आरोपी गिरफ्तार

Madhya Pradesh : गोकशी के शक में जनजाति समुदाय के दो लोगों की हत्या, अब तक नौ आरोपी गिरफ्तार

by

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के सिवनी जिले के कुरई थाना अंतर्गत सिमरिया गांव में गोकशी (Cow Slaughter) के संदेह में लोगों के एक समूह द्वारा जनजातीय समुदाय के दो लोगों की कथित तौर पर पीट-पीटकर हत्या करने के मामले में अब तक नौ लोगों को गिरफ्तार किया गया है. कांग्रेस विधायक अर्जुन सिंह काकोदिया (Arjun Singh Kakodia) ने दावा किया कि हमलावरों में बजरंग दल के सदस्य शामिल हैं, जबकि केंद्रीय मंत्री एवं मंडला-सिवनी सीट से भाजपा सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते ने कहा कि अब तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि हत्या में बजरंग दल के लोग शामिल हैं.

सिमरिया गांव निवासी धानसाय इनवाती और सागर गांव निवासी संपत बत्ती की गोकसी के शक में करीब 15 लोगों ने सोमवार देर रात करीब तीन बजे लाठियों से पीट-पीट कर हत्या कर दी थी. इस हमले में बृजेश बट्टी घायल भी हुआ है. बुधवार को जारी पुलिस विज्ञप्ति के अनुसार अब तक इन दो हत्याओं के आरोप में पुलिस ने नौ लोगों को गिरफ्तार किया है और तीन अन्य संदिग्ध व्यक्तियों को हिरासत में लिया गया है. इस मामले में बाकी आरोपियों को गिरफ्तार करने की कार्रवाई जारी है.

पुलिस बयान के अनुसार गिरफ्तार किये गये लोगों में शेर सिंह (28), अजय साहू (27), वेदांत सिंह चौहान (18), दीपक अवधिया (38), बसंत रघुवंशी (32), रघुनंदन रघुवंशी (20), अंशुल चौरसिया (22), शिवराज रघुवंशी (23) एवं रिंकू पाल (30) शामिल हैं.

हमलावरों में बजरंग दल के सदस्य शामिल, कांग्रेस का आरोप

घटना के विरोध में मंगलवार को करीब छह घंटे तक धरने पर बैठे कांग्रेस विधायक काकोदिया ने दावा किया कि हमलावरों में बजरंग दल के सदस्य शामिल हैं और उन्होंने इस दक्षिणपंथी संगठन पर प्रतिबंध लगाने की मांग की. उन्होंने कहा कि पीड़ितों के परिजनों को एक-एक करोड़ रुपये और सरकारी नौकरी दी जानी चाहिए.

केंद्रीय मंत्री कुलस्ते ने मंगलवार रात प्रेसवार्ता में कहा कि अब तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि हत्या में बजरंग दल के लोग शामिल हैं. उन्होंने काकोडिया द्वारा मंगलवार को छह घंटे तक जबलपुर-नागपुर राजमार्ग को जाम करने के मामले में कहा कि ऐसे मामले में राजनीति नहीं करनी चाहिए. कुलस्ते ने कहा कि मामले की सक्षम अधिकारी से जांच कराई जाएगी और जो भी दोषी होगा वह बच नहीं पाएगा. किसी भी संगठन या दल से जुड़े होने पर दोषियों को छोड़ा नहीं जाएगा.

Leave a Comment

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.

Generated by Feedzy