City Headlines

Home » ममता सरकार की पहली वार्षिकी के समय बंगाल में होंगे अमित शाह, BJP कार्यकर्ताओं में भरेंगे जोश, BSF के कार्यक्रम में भी लेंगे हिस्सा

ममता सरकार की पहली वार्षिकी के समय बंगाल में होंगे अमित शाह, BJP कार्यकर्ताओं में भरेंगे जोश, BSF के कार्यक्रम में भी लेंगे हिस्सा

by

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव 2021 का चुनाव परिणाम 2 मई को घोषित हुआ था और ममता बनर्जी ( Mamata Banerjee ) के नेतृत्व में तीसरी पर टीएमसी ने बहुमत हासिल की थी और बीजेपी (BJP) को करारी हार मिली थी. पांच मई को ममता बनर्जी ने तीसरी पर राज्य की सीएम के रूप में शपथ ली थी. बंगाल विधानसभा चुनाव के एक साल पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah Bengal Visit) 4 मई से छह मई तक पश्चिम बंगाल में रहेंगे. इस दौरान पर वह उत्तर बंगाल और दक्षिण बंगाल में पार्टी नेताओं के साथ बैठक करेंगे और अंतरकलह से जूझ रहे बीजेपी नेताओं में जोश भरेंगे और ममता बनर्जी को हराने की रणनीति बनाएंगे. सूत्रों का कहना है कि बंगाल दौरे के दौरान केंद्रीय गृह मंत्री बीएसएफ कैंप का दौरा भी कर सकते हैं.

पार्टी सूत्रों के अनुसार केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह तीन दिवसीय बंगाल दौरे पर आएंगे. वह 4 मई से 6 मई तक बंगाल में रहेंगे. बंगाल दौरे के दौरान अमित शाह पार्टी नेताओं के साथ सांगठनिक बैठक करेंगे. बंगाल दौरे के दौरान सिलीगुड़ी में वह एक जुलूस में भी शामिल होंगे.

बंगाल दौरे के दौरान BSF के कई कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे अमित शाह

प्राप्त जानकारी के अनुसार केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के 4 मई की रात पश्चिम बंगाल में आएंगे.अगले दिन यानी 5 मई को अमित शाह उत्तर 24 परगना के हसनाबाद स्थित बीएसएफ कैम्प का दौरा कर सकते हैं. इसी दिन गृह मंत्री अमित शाह कूचबिहार के तीन बीघा कॉरिडोर के बीएसएफ कैम्प में जा सकते हैं. उत्तर व दक्षिण बंगाल के बीएसएफ कैम्पों का दौरा करने के साथ ही बीएसएफ के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे. बीएसएफ सूत्रों के अनुसार, 5 मई को अमित शाह हसनाबाद के बाजार पोस्ट में जाएंगे. वह 6 फ्लोटिंग बीओपी यानी पानी पर तैरने वाली सीमा चौकियों का उद्घाटन करेंगे. इसके बाद आईसीपी पेट्रापोल में स्थित हरिदासपुर मेंबीएसएफ के म्यूजियम की आधारशिला रखेंगे. कूचबिहार तीन बीघा कॉरिडोर के बाद शाह सिलीगुड़ी में जनसभा कर सकते हैं.

बंगाल बीजेपी नेताओं के साथ करेंगे बैठक, बनाएंगे रणनीति

5 अप्रैल की रात को ही अमित शाह के कोलकाता लौटने की संभावना है. अगले दिन यानी 6 अप्रैल को भाजपा के सभी जिलाध्यक्षों व नेताओं के साथ बैठक करेंगे. बता दें कि बंगाल विधानसभा चुनाव में पराजय के बाद बीजेपी नेताओं में अंतरकलह मची हुई है. मुकुल रॉय सहित बीजेपी के पांच विधायक पार्टी छोड़कर टीएमसी में शामिल हो गए हैं. केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो भी बीजेपी छोड़कर टीएमसी में शामिल हो गए हैं तथा अब बैरकपुर के बीजेपी सांसद अर्जुन सिंह भी केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ आवाज उठा रहे हैं.

Leave a Comment

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.

Generated by Feedzy