City Headlines

Home » Mamata Delhi Visit: ममता बनर्जी का 29 अप्रैल से दिल्ली दौरा, BJP के निशाने पर रहेंगी CM, चुनावी हिंसा के पीड़ित निकालेंगे जुलूस

Mamata Delhi Visit: ममता बनर्जी का 29 अप्रैल से दिल्ली दौरा, BJP के निशाने पर रहेंगी CM, चुनावी हिंसा के पीड़ित निकालेंगे जुलूस

by

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banerjee ) नई दिल्ली में 30 अप्रैल को होने वाले मुख्यमंत्रियों और मुख्य न्यायाधीशों के संयुक्त सम्मेलन में शिरकत करेंगी. वह इसमें भाग लेने के लिए 29 अप्रैल को दिल्ली (Delhi) पहुंचेंगी. सीएम ममता बनर्जी के दिल्ली दौरे के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी के साथ भी मुलाकात की संभावना है. पीएम इस सम्मेलन का उद्घाटन करेंगे. हालांकि सीएम ममता बनर्जी के दिल्ली दौरे के दौरान बीजेपी ने सीएम को घेरने की रणनीति बनाई है. ममता बनर्जी के दिल्ली दौरे से ठीक पहले चुनाव बाद हिंसा के पीड़ित मंगलवार को दिल्ली पहुंचे. 29 को जब ममता दिल्ली पहुंचेंगी, तो बंगाल में चुनाव के बाद हुई हिंसा के पीड़ित (Bengal Post Poll Violence) दिल्ली में मार्च करेंगे. पीड़ित पटियाला हाउस कोर्ट से तिलक मार्ग तक मार्च करेंगे और दोपहर 12.30 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे.

छह साल के अंतराल के बाद 30 अप्रैल को होने वाले मुख्यमंत्रियों और उच्च न्यायालयों के मुख्य न्यायाधीशों के सम्मेलन के एजेंडे में तुरंत न्याय, मुकदमों की देरी में कमी और न्यायपालिका में बढ़ती रिक्तियां के एजेंडी में रहने की संभावना है.

चुनावी हिंसा को मुद्दा बना रही है बीजेपी, निकालेंगे जुलूस

बीजेपी लगातार बंगाल में चुनाव बाद हिंसा का मुद्दा उठा रही है. इस मामले को लेकर कलकत्ता हाईकोर्ट ने सीबीआई जांच का आदेश दिया है. सीबीआई इस मामले की जांच कर रही है. इस मामले में 200 से अधिक केस दर्ज किए चुके हैं और कई मामलों में चार्जशीट भी दाखिल की गी है, लेकिन बीजेपी का आरोप है कि अभी भी बड़ी संख्या में लोग बेघर हैं और टीएमसी नेताओं के आतंक के कारण वे घर नहीं लौट पा रहे हैं. इस मामले को लेकर हाईकोर्ट ने भी राज्य सरकार ने रिपोर्ट तलब की है. अब ममता बनर्जी के दिल्ली दौरे के दौरान चुनावी हिंसा के शिकार लोग दिल्ली में जुलूस निकालेंगे.

न्यायापालिका के मुद्दे पर सम्मेलन पर शामिल होंगी ममता बनर्जी

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सम्मेलन न्यायपालिका के सामने आने वाली चुनौतियों पर चर्चा करने का एक मंच है और यह आखिरी बार 24 अप्रैल, 2016 को आयोजित किया गया था. इस तरह के सम्मेलनों का उद्घाटन आमतौर पर प्रधानमंत्री द्वारा भारत के मुख्य न्यायाधीश और केंद्रीय कानून मंत्री की उपस्थिति में किया जाता है. इस बार भी प्रधानमंत्री के दिन भर चलने वाली इस बैठक का उद्घाटन करने की संभावना है. प्रधानमंत्री 30 अप्रैल को सम्मेलन का उद्घाटन करेंगे और उद्घाटन सत्र को भी संबोधित करेंगे.

Leave a Comment

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.

Generated by Feedzy