City Headlines

Home » नवनीत राणा से सांताक्रूज पीएस में गलत व्यवहार! खार का वीडियो जारी कर मुंबई पुलिस ने दी सफाई, अब पेश करेगी एक और CCTV फुटेज

नवनीत राणा से सांताक्रूज पीएस में गलत व्यवहार! खार का वीडियो जारी कर मुंबई पुलिस ने दी सफाई, अब पेश करेगी एक और CCTV फुटेज

by

महाराष्ट्र के अमरावती से सांसद नवनीत राणा (Navneet Rana) और उनके विधायक पति रवि राणा को शनिवार की शाम पुलिस ने गिरफ्तार किया था. वहां से उन्हें मुंबई के खार पुलिस स्टेशन में लाया गया. इसके बाद उन्हें सांताक्रूज पुलिस स्टेशन में ले जाया गया. नवनीत राणा ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को पत्र लिख कर यह आरोप लगाया था कि दलित होने की वजह से उनके साथ पुलिस कस्टडी में गलत व्यवहार किया गया. उन्हें उनकी जाति को लेकर गालियां दी गईं. वॉशरुम तक जाने नहीं दिया गया. पानी मांगने पर पानी देने से इनकार किया गया. इस मुद्दे पर मुंबई पुलिस (Mumbai Police) कमिश्नर संजय पांडे (Sanjay Pandey) ने एक वीडियो ट्वीट किया और यह सवाल किया कि और क्या सबूत दिया जाए? इस वीडियो में नवनीत राणा और उनके पति रवि राणा मजे से चाय पीते हुए दिखाई दे रहे हैं. सामने पानी भी रखा हुआ है. पुलिस का कहना है कि उन्हें पानी देने से इनकार करने के बाद ना सिर्फ चाय बल्कि बिस्लेरी दी गई. यानी मुंबई पुलिस ने यह साबित करने की कोशिश की कि महिला सांसद झूठ बोल रही हैं.

इसके बाद सांसद नवनीत राणा के वकील रिजवान मर्चंट का बयान आया कि मुंबई पुलिस जो वीडियो सबूत दिखा रही है वो तो खार पुलिस स्टेशन का है. जबकि अनुसूचित जाति का होने की वजह से नवनीत राणा के साथ जो गलत व्यवहार हुआ है वो तब हुआ जब उन्हें सांताक्रूज पुलिस स्टेशन की कस्टडी में लाकर रखा गया था. इस तरह के सवाल उठने के बाद मुंबई पुलिस अब नया सबूत लाने की तैयारी कर रही है.

‘कुछ कहने को रह जाता है?’ पुलिस स्टेशन ही बदल दिया, बाकी और सवाल कहां सामने आता है?

Do we say anything more pic.twitter.com/GuUxldBKD5

— Sanjay Pandey (@sanjayp_1) April 26, 2022

जब होने लगा बवाल, तो मुंबई पुलिस नया वीडियो जारी करने को हुई तैयार

जल्द ही मुंबई पुलिस एक नया वीडियो जारी करेगी जिसमें वो यह साबित करने की कोशिश करेगी कि सांताक्रूज पुलिस स्टेशन में भी नवनीत राणा के साथ कोई गलत व्यवहार नहीं हुआ. पुलिस सूत्रों का कहना है कि सांताक्रूज पुलिस स्टेशन के लॉक अप का भी वीडियो तैयार है और यह जल्दी जारी किया जा सकता है. बल्कि जो वीडियो जारी होने वाला है उस सीसीटीवी फुटेज के बारे में बताया जा रहा है कि वॉशरुम जाने ना दिए जाने की बात झूठी है. बल्कि नवनीत राणा को ऑफिसरों के वॉशरुम में जाने की सुविधा दी गई थी. अब अगर मुंबई पुलिस नया वीडियो जारी करती है और यह साबित करने में सफल होती है तो नवनीत राणा की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. उन पर पुलिस पर गलत आरोप लगाने का एक नया केस दर्ज होने का रास्ता खुल जाएगा.

‘शाबाश ऑफिसर क्या काम किया, सबूत दिखा कर मुंह पर लगाम दिया’

खार पुलिस स्टेशन का यह वीडियो जारी किए जाने के बाद संजय राउत ने मुंबई पुलिस आयुक्त संजय पांडे का अभिनंदन किया है और उन्हें शाबाशी दी. संजय राउत ने कहा है कि पिछले कुछ दिनों से मुंबई पुलिस को बदनाम करने की कोशिशें हो रही थीं. पर मुंबई पुलिस आयुक्त ने सही सबूत देकर राणा का मुंह बंद कर दिया है.

बता दें कि राणा दंपत्ति शनिवार को सीएम उद्धव ठाकरे के निवास ‘मातोश्री’ के बाहर हनुमान चालीसा पढ़ना चाहते थे. पुलिस ने उन्हें मुंबई स्थित घर से निकलने पर पाबंदी लगा दी. शिवसैनिकों ने उनके घर का घेराव कर दिया. वे घर से निकल ही नहीं पाए और मातोश्री जाकर हनुमान चालीसा पढ़ने का फैसला वापस ले लिया. लेकिन पुलिस ने उन्हें भड़काऊ भाषण करने और समाज में तनाव पैदा करने की कोशिश करने के मामले में गिरफ्तार कर लिया. दूसरे दिन उन पर राजद्रोह का केस भी थोप दिया गया. कहा गया कि उन्होंने प्लान करके राज्य प्रशासन को चुनौती दी है.

Leave a Comment

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.

Generated by Feedzy