City Headlines

Home » चीन में निर्मित टेस्ला की भारत में बिक्री नहीं, मस्क देश में ही करें EV का उत्पादन- गडकरी

चीन में निर्मित टेस्ला की भारत में बिक्री नहीं, मस्क देश में ही करें EV का उत्पादन- गडकरी

by

भारत में टेस्ला (Tesla) कारों के आयात और बिक्री की कोशिशों में लगे मस्क को परिवहन मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) आज साफ कर दिया है कि अगर वो चीन में निर्माण इकाई लगाकर भारत में बिक्री करना चाहते हैं तो ऐसा संभव नहीं होगा. गडकरी ने कहा कि मस्क भारत में उत्पादन करें और यहां मौजूद अवसरों को लाभ उठाएं जो दोनो ही पक्षों के लिये फायदेमंद होगा. नितिन गडकरी ने साफ कहा कि चीन में निर्माण और भारत में बिक्री.. ऐसा नहीं चलेगा. टेस्ला काफी समय से भारत में अपनी कारों की बिक्री शुरू करने की कोशिश कर रही है और वो शुल्क में कटौती की मांग कर रही है. मस्क कई बार कह चुके हैं कि भारत में इलेक्ट्रिक व्हीकल (Electric Vehicle) पर आयात शुल्क पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा है. हालांकि आज गडकरी ने साफ कर दिया है कि मस्क के लिये बेहतर यही होगा कि वो भारत में ही इन कारों का निर्माण करें.

क्या कहा नितिन गडकरी ने

आज रायसीना डायलॉग में बात करते हुए नितिन गडकरी ने कहा कि एलॉन मस्क को मेरा सुझाव है कि उन्हें भारत में एक अच्छा बाजार मिलेगा. भारत का बाजार काफी बड़ा है और यहां उनके आने से दोनो पक्षों को फायदा मिलेगा. गडकरी के मुताबिक चीन में मौजूद सारे वेंडर भारत में भी मौजूद हैं. और पार्ट्स से लेकर अन्य सेवाओं तक भारत उत्पादक अच्छी गुणवत्ता के साथ ऑफर कर रहे हैं. गडकरी ने कहा कि अगर वो देश में निर्माण करते हैं उन्हें अच्छी बचत के साथ ऊंचा मुनाफा भी होगा. इसलिये मैं उनसे अनुरोध करता हूं कि वो भारत में उत्पादन शुरू करें. साथ ही उन्होने कहा कि चीन में निर्माण और भारत में बिक्री सही नही है.

EV हादसों को रोकने के लिये आएंगे नियम

वहीं इलेक्ट्रिक व्हीकल के साथ हो रहे हादसों पर गडकरी ने कहा कि मार्च और अप्रैल में जब देश में तापमान बढ़ने लगता है बैटरी के साथ कुछ समस्या देखने को मिली है. उन्होने कहा कि इन हादसों की जांच एक्सपर्ट कमेटी ने की है और रिपोर्ट मिल गई है. गडकरी के मुताबिक मुझे लगता है कि हादसों की वजह तापमान में बढ़त है. और सरकार ने निर्णय लिया है कि इसके लिये जल्द नियम जारी किये जाएंगे. उन्होने कंपनियों को सलाह दी कि वो किसी भी गड़बडी वाले वाहन को वापस लेकर दुरुस्त करें. वहीं उन्होने साफ किया सरकार सस्ते क्रूड को खरीदने के लिये सभी विकल्पों पर काम कर रही है और उम्मीद है कि हम इस मामले में कुछ विकल्प तलाश लेंगे.

Leave a Comment

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.

Generated by Feedzy