City Headlines

Home » राजद के घोषणा पत्र के जवाब में, चिराग ने कहा, “नौकरी किस तरह दी जाती थी, यह जनता को पता है…

राजद के घोषणा पत्र के जवाब में, चिराग ने कहा, “नौकरी किस तरह दी जाती थी, यह जनता को पता है…

by Nikhil

चिराग पासवान ने तंज कसते हुए कहा कि यह आपके लिए पहला मौका नहीं है। आपके परिवार में दो-दो लोग लंबे समय तक मुख्यमंत्री रह चुके हैं। उस समय अगर विकास होता, तो आज बिहार पिछड़ा राज्य नहीं कहलाता।

राष्ट्रीय जनता दल के घोषणा पत्र के बाद, बिहार में सियासत एक बार फिर उठ खड़ी है। लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) ने राजद के घोषणा पत्र को निशाना बनाया। वे बिना नाम लिए तेजस्वी यादव और उनके परिवार के खिलाफ भी बोले। चिराग पासवान ने कहा कि अगर एक करोड़ लोगों को नौकरी दे सकते हैं तो इनके परिवार के लोग बिहार में कैसे इतने लंबे समय तक सत्ता में रहे? और, उस समय कैसे नौकरियां बांटी गईं, यह सबको पता है। चुनावी वादों का बहुत बड़ा खेल खेला जाता है। सत्ता में आने के बाद ही सच्चाई सामने आती है। और सच्चाई यह है कि जब भी इनलोगों को सत्ता मिलती है, तो वे बहाने ढूंढने लगते हैं और कहते हैं कि यह गठबंधन का वादा नहीं हमारा वादा था और हमारी सरकार आने पर इसे पूरा किया जाएगा।

अगर विकास होता, तो बिहार आज पिछड़ा राज्य नहीं कहलाता। चिराग पासवान ने तेजस्वी यादव की एक करोड़ रोजगार घोषणा पर उनका तंज कसते हुए कहा कि यह आपके लिए पहला मौका नहीं है। आपके परिवार में दो-दो लोग लंबे समय तक मुख्यमंत्री रह चुके हैं। उस समय यदि विकास होता, तो बिहार की स्थिति आज ऐसी नहीं होती। यह तब का सच्चाई है कि कौन कौन से दांत खाने वाले हैं और कौन कौन से दांत दिखाने के हैं, यह अब सभी को समझ में आ रहा है।

चिराग पासवान ने दावा किया कि बिहार की जनता ने अपने मन में ठान लिया है कि तीसरी बार नरेंद्र मोदी को देश का प्रधानमंत्री बनाना है, चाहे हालात कुछ भी हों। सही मायनों में, विकास को गति देने के लिए डलब इंजन की सरकार ही उचित है। हर बिहारी इसी को चाहता है।

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.