City Headlines

Home » मौसम के गर्मी के बीच महंगाई भी बढ़ती जा रही है, जिससे दाल-चावल, आटा और सब्जियों के दाम में वृद्धि हो रही है। लोग अब यह जानना चाहते हैं कि कब तक मिलेगी इसमें कुछ राहत।

मौसम के गर्मी के बीच महंगाई भी बढ़ती जा रही है, जिससे दाल-चावल, आटा और सब्जियों के दाम में वृद्धि हो रही है। लोग अब यह जानना चाहते हैं कि कब तक मिलेगी इसमें कुछ राहत।

by Nikhil

लोकसभा चुनाव के बीच, आम आदमी के लिए दाल-रोटी की कीमतें तेजी से बढ़ गई हैं। पिछले एक महीने में लगभग सभी आवश्यक वस्तुओं की कीमतें 15% से 20% तक बढ़ गई हैं। दाल-चावल, आटा, शक्कर, तेल, मसाले सभी कीमतें वृद्धि का शिकार हो गई हैं। पिछले तीन महीने में दाल के दाम 15 से 30 रुपये प्रति किलो तक बढ़ गए हैं, जिसमें तुअर, चना, उड़द जैसी सभी दालों के भी दाम शामिल हैं। मखाना जैसे स्नैक्स की कीमत भी लगभग दोगुनी हो गई है। इसी तरह सब्जियों के भी दामों में काफी बढ़ोतरी नजर आ रही है।

दिल्ली में आलू की कीमत 40 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गई है। इसके विपरीत, आजादपुर मंडी में यह लगभग 25 रुपये प्रति किलो में बिक रहा है। प्याज का थोक भाव भी 25-30 रुपये प्रति किलो हो गया है। टमाटर 15-20 रुपये प्रति किलो में बिक रहा है। इसी प्रकार, घीया, करेला, परवल, तोरई, पत्तागोभी, फूलगोभी, कटहल, कुंदरू जैसी सब्जियों के भी दामों में 10-20 रुपये की बढ़ोतरी नजर आ रही है। गर्मी के मौसम में इसका कारण मुद्रास्फीति और विभिन्न उत्पादों की कीमतों में वृद्धि बताई जा रही है।

थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) ने मई में 15 महीने के उच्च स्तर पर बनाए रहे। इसका पिछला उच्च स्तर फरवरी 2023 में दर्शाया गया था, जब थोक मुद्रास्फीति 3.85 प्रतिशत थी। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, मई में खाद्य वस्तुओं की मुद्रास्फीति 10 महीने के उच्च स्तर 9.82 प्रतिशत तक पहुंच गई। सब्जियों की महंगाई दर मई में 32.42 प्रतिशत रही, जो एक महीने पहले अप्रैल में 23.60 प्रतिशत थी। इसी प्रकार, प्याज की महंगाई दर 58.05 प्रतिशत और आलू की महंगाई दर 64.05 प्रतिशत रही। दालों की महंगाई दर मई में 21.95 प्रतिशत बढ़ी। हालांकि, मई में खुदरा मुद्रास्फीति की वृद्धि इस महीने के खुदरा मुद्रास्फीति के आंकड़ों के विपरीत है। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) खुदरा मुद्रास्फीति को मुख्य रूप से ध्यान में रखता है जब वह मुद्रिक नीति तैयार करता है।

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.