City Headlines

Home » मुंबई में बनी 12,000 करोड़ रुपये की टनल के उद्घाटन के बाद, इसकी मौजूदगी से शहर में एक नया उत्साह और संभावनाओं का संचार हो रहा है। इस आधुनिक संरचना के खोलने के बाद, लोगों में ट्रांसपोर्टेशन के प्रति और भी उत्साह और आत्मविश्वास दिख रहा है।

मुंबई में बनी 12,000 करोड़ रुपये की टनल के उद्घाटन के बाद, इसकी मौजूदगी से शहर में एक नया उत्साह और संभावनाओं का संचार हो रहा है। इस आधुनिक संरचना के खोलने के बाद, लोगों में ट्रांसपोर्टेशन के प्रति और भी उत्साह और आत्मविश्वास दिख रहा है।

by Nikhil

मुंबई की कोस्टल रोड सुरंग के उद्घाटन के तीन महीने बाद भी, इसके खर्चे में और समस्याओं में वृद्धि हो रही है। लगभग 12,000 करोड़ रुपये की लागत से बनी इस महत्वपूर्ण सुरंग में पानी का रिसाव दिखाई देने लगा है, जो मुंबई में मानसून के आगमन के साथ ही चिंता का विषय बन गया है।

इस सुरंग का उद्घाटन मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने इस साल 11 मार्च को किया था। यह महत्वपूर्ण है क्योंकि यह देश की पहली सड़क है जो समुद्र के नीचे बनी है। पहले, वर्ली से मरीन ड्राइव तक की यात्रा में लगभग 40 मिनट लगते थे, लेकिन अब इस सुरंग के खुलने के बाद, इस दूरी को सिर्फ 9 से 10 मिनट में तय किया जा सकता है।

लेकिन, मानसून से दो हफ्ते पहले ही, सुरंग से पानी का रिसाव शुरू हो गया है, जिससे कई सवाल उठ गए हैं। सीलन की कमी के कारण दीवारों पर कई जगहों पर काले धब्बे पड़ गए हैं। इस चिंताजनक स्थिति को ध्यान में रखते हुए, मुख्यमंत्री शिंदे ने सुरंग की जांच करने के लिए दौरा किया और आश्वासन दिया कि सुरंग को शीघ्र ही स्थायी रूप से ठीक किया जाएगा।

पिछले 10 अप्रैल को, हाजी अली कोस्टल रोड के पैदल यात्री अंडरपास में पानी की घुसपैठ की घटना हुई थी, जिससे बीएमसी को खूब आलोचना का सामना करना पड़ा था। अब, मानसून के दौरान, यह कोस्टल रोड सुरंग कितनी सुरक्षित है, यह बात खतरे में है।

सुरंग का व्यास 12.19 मीटर है और यह समुद्र तल से 17 से 20 मीटर नीचे स्थित है। 11 मार्च को, इसे एक तरफ के यातायात के लिए खोल दिया गया था और अब तक 7 लाख से अधिक वाहन इस मार्ग से यात्रा कर चुके हैं। यहां सिर्फ एक तरफा यातायात होने के कारण, बारिश के समय इस सुरंग की सुरक्षा पर सवाल उठते हैं।

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.