City Headlines

Home » ब्रज के संतों ने कथावाचक प्रदीप मिश्रा के खिलाफ एक मोर्चा खोला है, जिसमें महापंचायत में उन्हें दंड देने का निर्णय सुनाया जाएगा। इस विवाद के माध्यम से प्रेमानंद जी भी नाराज हैं।

ब्रज के संतों ने कथावाचक प्रदीप मिश्रा के खिलाफ एक मोर्चा खोला है, जिसमें महापंचायत में उन्हें दंड देने का निर्णय सुनाया जाएगा। इस विवाद के माध्यम से प्रेमानंद जी भी नाराज हैं।

by Nikhil

मथुरा में कथावाचक प्रदीप मिश्रा और प्रेमानंद महाराज जी के बीच एक विवाद उठ गया है, जिसका परिणामस्वरूप ब्रज के संत, महंत और धर्माचार्यों ने प्रदीप मिश्रा के खिलाफ मोर्चा खोला है। इस विवाद के बीच महापंचायत का आयोजन किया गया है, जिसमें धर्माचार्य, संत, महंत और महामंडलेश्वर शामिल होंगे, और उन्हें प्रदीप मिश्रा के खिलाफ दंड सुनाने का निर्णय लिया जाएगा। यह महापंचायत प्रदीप मिश्रा द्वारा राधारानी के विवादित बयान के संदर्भ में बुलाई गई है।

मथुरा में ब्रज के संत, महंत और धर्माचार्यों की आज एक महापंचायत आयोजित हो रही है। यह महापंचायत बरसाना के रमेश बाबा के रसमंडप गहबरवन में व्यवस्थित हो रही है, जिसमें कथावाचक प्रदीप मिश्रा द्वारा राधारानी पर दिए गए विवादित बयान पर विचार किया जा रहा है। संतों, महंतों, और धर्माचार्यों ने पुलिस से एफआईआर दर्ज कराने की मांग की है।

प्रेमानंद जी से संत नाराजगी का कारण यह है कि प्रदीप मिश्रा ने राधा रानी को लेकर एक विवादित बयान दिया था, जो सामाजिक मीडिया पर वायरल हुआ था। प्रेमानंद जी ने प्रदीप मिश्रा को नसीहत दी थीं, लेकिन इस मुद्दे पर उनकी राय और संतों की राय में भिन्नता थी।

संत समाज इस वजह से प्रेमानंद जी से नाराज है कि उन्होंने प्रदीप मिश्रा से फोन पर सुलह कर ली, लेकिन इस मुद्दे पर ब्रज के किसी संत से सलाह नहीं ली। इसके परिणामस्वरूप, प्रदीप मिश्रा के बरसाना आने और माफी न मांगने तक, संत समुदाय का विरोध जारी रहेगा। ब्रज के धर्माचार्यों ने प्रदीप मिश्रा को शास्त्रार्थ करने के लिए चुनौती दी है। इस महापंचायत में धर्माचार्य, संत, महंत, और महामंडलेश्वर मिलकर प्रदीप मिश्रा के खिलाफ दंड का निर्णय लेंगे।

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.