City Headlines

Home » बिहार में चार उम्मीदवारों की गिरफ्तारी के बाद उनके NEET के परिणाम सामने आए हैं, जहां प्रकरण विषय में ही अच्छे अंक हासिल किए गए हैं।

बिहार में चार उम्मीदवारों की गिरफ्तारी के बाद उनके NEET के परिणाम सामने आए हैं, जहां प्रकरण विषय में ही अच्छे अंक हासिल किए गए हैं।

by Nikhil

बिहार पुलिस ने NEET पेपर लीक मामले में चार उम्मीदवारों को गिरफ्तार किया है। इन गिरफ्तारियों के बाद आज इन सभी उम्मीदवारों का रिजल्ट जारी किया गया है। इस मार्कशीट से स्पष्ट हो रहा है कि जेल जाने वाले चारों अभ्यर्थियों को पेपर लीक के आरोप में बड़े अंक नहीं मिले हैं। यहां से पता चलता है कि जिस उम्मीदवार ने किस विषय को रटा था, उसमें ही उन्हें अच्छे अंक मिले हैं, जबकि बाकी विषयों में उनका प्रदर्शन कमजोर रहा है।

पेपर लीक के आरोप में जेल भेजे गए चारों छात्रों के लिए यह स्पष्ट है कि उन्हें किसी एक विषय में ही अच्छे अंक प्राप्त हुए हैं, जबकि अन्य विषयों में उनकी प्रदर्शन थीम है। इससे सुझाव देने वाला है कि शायद वे उस विषय को रटे हुए थे, जिसमें उन्हें अच्छे अंक मिले हैं।

परीक्षार्थी अभिषेक का पटना के सीडी कॉन्वेंट स्कूल में सेंटर था, और उन्हें इन चारों छात्रों में सबसे अधिक 581 नंबर प्राप्त हुए हैं। उन्हें फिजिक्स में 96.40, केमिस्ट्री में 95.99, और बायोलॉजी में 95.56 प्रतिशतांक प्राप्त हुआ है।

उसी तरह, गया के रहने वाले शिवनंदन कुमार का परीक्षा केंद्र पाटलिपुत्र के इंटरनेशनल कॉलेज में था, और उन्हें 483 नंबर प्राप्त हुए हैं। उन्हें फिजिक्स में 89.75, केमिस्ट्री में 86.02, और बायोलॉजी में 90.27 प्रतिशतांक प्राप्त हुआ है।

आश्चर्यजनक है कि उम्मीदवार आयुष राज का पटना के डीएवी बोर्ड कॉलोनी में परीक्षा केंद्र था, और उन्हें केवल 300 नंबर प्राप्त हुए हैं। उन्हें फिजिक्स में केवल 15.52, केमिस्ट्री में 15.36, और बायोलॉजी में 87.80 प्रतिशतांक प्राप्त हुआ है।

दूसरी ओर, उम्मीदवार अनुराग यादव जेल गए हैं, जो माफिया सिकंदर यादवेंदु के साले के बेटे हैं। उन्हें केवल 185 नंबर प्राप्त हुए हैं। उन्हें बायोलॉजी में 51.04 और केमिस्ट्री में 5.04 प्रतिशतांक प्राप्त हुआ है, लेकिन फिजिक्स में 85.52 प्रतिशतांक प्राप्त हुआ है।

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.