City Headlines

Home » नीट पेपर लीक के मामले में चिंटू और पिंटू नामक व्यक्तियों की एंट्री, जांच में हुआ एक बड़ा खुलासा, जानिए ताज़ा अपडेट।

नीट पेपर लीक के मामले में चिंटू और पिंटू नामक व्यक्तियों की एंट्री, जांच में हुआ एक बड़ा खुलासा, जानिए ताज़ा अपडेट।

by Nikhil

पटना में नीट पेपर लीक मामले में दो नए अभ्यर्थियों के नाम चिंटू और पिंटू सामने आए हैं। जांच के दौरान पता चला कि चिंटू के पास परीक्षा के दिन सुबह 9 बजे प्रश्न पत्र था। चिंटू संजीव मुखिया के गांव के बगल में रहता है। पिंटू भी चिंटू के करीबी थे और उन्होंने इसे प्रिंट कर करीब नौ बजे चिंटू के साथ मौजूद लर्न प्ले स्कूल में दिया।

अनुसार मिली जानकारी के अनुसार, पेपर लीक मामले में मुख्य आरोपी सिकंदर प्रसाद यादवेंदु ने स्वीकार किया है कि उन्होंने चार परीक्षाओं के प्रश्नपत्र लीक करने की योजना बनाई थी। उनके बयान के अनुसार, परीक्षार्थियों को परीक्षा के एक दिन पहले तैयारी के लिए बुलाया गया था और प्रत्येक परीक्षार्थी से 40 लाख रुपये की मांग की गई थी।

बिहार पुलिस की आर्थिक अपराध इकाई के सूत्रों के अनुसार, पांच मई को आपराधिक प्रक्रिया संहिता की धारा 161 के तहत मामला दर्ज किया गया है, जिसमें यादवेंदु ने बताया कि उन्होंने अपने भतीजे अनुराग यादव सहित प्रत्येक परीक्षार्थी से प्रश्नपत्र लीक करवाने के लिए धन की मांग की थी।

जांच में सामने आया कि चार मई को उन्होंने नीतीश कुमार और अमित आनंद से संपर्क स्थापित किया था और उन्हें प्रति परीक्षार्थी 32 लाख रुपये लेकर प्रश्नपत्र उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया था। उन्होंने यह भी दावा किया कि सभी चार परीक्षार्थियों को चार मई को गेस्ट हाउस में बुलाया गया था, जहां उन्हें लीक हुए प्रश्नपत्र का उपयोग करके ‘तैयारी’ में मदद की गई थी।

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.