City Headlines

Home » अभी तक अरविंद केजरीवाल को जेल से बाहर आने की राह खुली नहीं है, क्योंकि दिल्ली हाई कोर्ट ने उनकी रिहाई की प्रक्रिया पर रोक लगा दी है।

अभी तक अरविंद केजरीवाल को जेल से बाहर आने की राह खुली नहीं है, क्योंकि दिल्ली हाई कोर्ट ने उनकी रिहाई की प्रक्रिया पर रोक लगा दी है।

by Nikhil

गुरुवार को, दिल्ली हाई कोर्ट के वेकेशन जज न्याय बिंदु ने अरविंद केजरीवाल को रेगुलर बेल दी थी, लेकिन शुक्रवार को उन्हें बेल बॉन्ड भरने के बाद भी तिहाड़ जेल जाना पड़ सकता है। इस बीच, दिल्ली हाई कोर्ट ने एक रोक लगाई है, जिसके अनुसार जब तक मामले की समीक्षा पूरी नहीं होती, राउज एवेन्यू कोर्ट के आदेश को लागू नहीं किया जाएगा। इस प्रक्रिया के बारे में अगली सुनवाई तक निर्णय दिया गया है।

केजरीवाल की रिहाई पर रोक लगने के बाद, आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने अपने बयान में कहा है, “मोदी सरकार की गुंडागर्दी का दृश्य देखिए। ट्रायल कोर्ट का आदेश अभी तक नहीं आया है और न ही हमें आदेश की कॉपी मिली है, फिर प्रवर्तन निदेशालय (ED) हाईकोर्ट में किस आदेश को चुनौती देने पहुंच गई?”

दिल्ली हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान, प्रवर्तन निदेशालय के वकील ASG राजू और वकील जोएब हुसैन मौजूद रहे। उसी समय, अरविंद केजरीवाल के वरिष्ठ वकील अभिषेक मनु सिंघवी वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से हाईकोर्ट की कार्यवाही में शामिल हुए।

प्रवर्तन निदेशालय (ED) के वकील ASG एसवी राजू ने हाईकोर्ट को बताया कि ट्रायल कोर्ट का आदेश अभी तक अपलोड नहीं किया गया है और इसलिए शर्तें अज्ञात हैं। उन्होंने कहा कि जांच एजेंसी को केजरीवाल की जमानत याचिका का विरोध करने का पूरा मौका नहीं दिया गया है और उन्होंने कोर्ट से जल्द से जल्द सुनवाई की मांग की।

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने दिल्ली हाईकोर्ट से अनुरोध किया था कि वह शराब नीति मामले में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को जमानत देने के निचली अदालत के फैसले पर रोक लगाए।

Subscribe News Letter

Copyright © 2022 City Headlines.  All rights reserved.